Thursday, February 27, 2014

CCL 4 भोजपुरी दबंग - बल्लेबाजी में मनोज तो गेंदबाजी में अयाज़ रहे अब्बल

सेलिब्रेटी क्रिकेट लीग में पिछले साल ही दस्तक देने वाली भोजपुरी सितारो की टीम भोजपुरी दबंग ने इस साल ना सिर्फ सेमीफाइनल तक का सफ़र तय किया बल्कि लीग में तीसरा स्थान भी हासिल किया। सेमीफानल में केरला स्ट्राइकर से हार कर तीसरे नंबर पर रही इस टीम के खिलाडियों के प्रदर्शन पर नज़र डाला जाये तो बल्लेबाजी में कप्तान मनोज तिवारी तो गेंदबाजो में अयाज़ खान अब्बल रहे। 
हैदराबाद में केरला की टीम से हार का स्वाद चखने वाली भोजपुरी दबंग ने अपने पहले ही मुकाबले में मराठी सितारो की टीम वीर मराठी को करारी शिकस्त दी थी और उस मैच के नायक थे उदय तिवारी।  उदय ने ९३ रनो कि नाबाद पारी खेली थी और उनका बखूबी साथ दिया था प्रवेश लाल यादव ने जिन्होंने ७७ रन बनाये।  उदय ने कुल पांच मैच में 42. 2 की औसत से कुल १६९ रन बनाये।  उन्होंने गेंदबाजी में भी दो खिलाडियों को अपना शिकार बनाया।  बल्लेबाजी में अब्बल नंबर पर रहे कप्तान मनोज तिवारी मैच में दो अर्धशतकीय पारी खेली।  उन्होंने ४४ की औसत से कुल १७६ रन बनाये।  गेंदबाजी में भी उन्होंने कमाल दिखाया और ५ खिलाडियों को आउट किया।  सलामी बल्लेबाज के रूप में मनोज तिवारी के साथ पारी कि शुरुवात करने वाले प्रवेश लाल यादव ने भी दो अर्धशतकीय पारी खेली।  उन्होंने पांच मैच में २८ रन कि औसत से कुल १४२ रन बनाये।  विकेटकीपर बल्लेबाज अजय शर्मा ने भी अच्छा प्रदर्शन किया।  उनका सर्वाधिक निजी  स्कोर ८० रन है।  उन्होंने ३५ रनो कि औसत से कुल १७४ रन बनाये।  
आल राउंडर आदित्य ओझा ने मैच में ३१ रनो कि औसत से कुल ९३ रन बनाये।  उन्होंने १२२ रन देकर ३ खिलाडियों को आउट भी किया।  टीम के दो अन्य बल्लेबाज उप कप्तान निरहुआ और अकबर नकवी का प्रदर्शन कुछ ख़ास नहीं रहा।  हालांकि निरहुआ ने २६ रन की बेहतरीन पारी खेल कर सेमीफाइनल में भोजपुरी दबंग को सम्मानजनक स्कोर पहुचने में मदद की।  निरहुआ ने १४ रनो कि औसत से कुल ४३ रन बनाये। अकबर नकवी ने साढ़े पांच कि औसत से कुल ११ रन बनाये।  उनका सर्वाधिक निजी स्कोर ९ रन रहा।  जहां तक गेंदबाजी की बात है , भोजपुरी दबंग के पास खुद कप्तान मनोज तिवारी, विक्की बांड के नाम से विरोधी टीम में मशहूर विक्रांत सिंह, प्रकाश जैस , जे पी यादव, और अयाज़ खान पर पूरा दारोमदार था।  हालांकि उदय तिवारी और आदित्य ओझा भी गेंदबाजी की क्रम में टीम में हैं।  इन गेंदबाजो में अयाज़ खान ने सर्वाधिक ७ विकेट लिए।  अयाज़ ने रांची में चेन्नई के खिलाफ हेट्रिक सहित एक ओवर में ४ विकेट हासिल कर सी सी एल में एक कीर्तिमान भी स्थापित किया है।  विक्रांत सिंह, प्रकाश जैस  और मनोज तिवारी ने ५ - ५ खिलाडियों को अपना शिकार बनाया।  विक्रांत का औसत जहाँ २६ रन प्रति विकेट का था वहीँ कप्तान मनोज तिवारी का औसत २०. ४ का रहा।   प्रकाश जैस ने २७ के औसत से प्रति विकेट हासिल किया।  जे पी यादव औसतन सभी गेंदबाजो पर भारी पड़े।  उन्होंने १८ रन कि औसत से कुल ४ विकेट हासिल किये।  यही नहीं सेमीफाइनल में उन्होंने नाबाद २४ रनो की संघर्षपूर्ण पारी खेली और निरहुआ के सर्वाधिक २६ रनो के बाद टॉप स्कोरर रहे।  बल्लेबाजो में उदय तिवारी ने भोजपुरी दबंग के टॉप स्कोरर रहे उन्होंने वीर मराठी के खिलाफ ९३ रनो की नाबाद पारी खेली।udaybhagat@gmail.com