Thursday, September 18, 2014

औरत खिलौना नहीं में दहेज़ प्रथा पर मोहिनी घोष का प्रहार


भोजपुरी फिल्मो की जानी मानी अभिनेत्री मोहिनी घोष ने दहेज़ के प्रति जंग छेड़ दी है .समाज में दहेज़ एक ऐसी प्रथा है जिसके चलते आये दिन हम अख़बार और टीवी चैनल्स पर कई खबर आती है की दहेज़ के लिए ससुराल वालो ने अपनी बहु को मार दिया या जला दिया.पर अब ऐसा नहीं होगा अब बहुए जलकर नहीं मरेंगी बल्कि दहेज मांगने वाले ससुराल वालो को बहुए जलाकर मारेंगी. यह सब आपको बहुत जल्द प्रदर्शित की जाने वाली भोजपुरी फिल्म में देखने मिलेगा जिसका नाम है ”औरत खिलौना नहीं ”.इस फिल्म में दहेज़ के प्रति हो रहे अत्याचार को बंद करने का सन्देश नहीं दिया जाएगा बल्कि जो अत्याचार कर रहे है उनको सबक सिखाया जाएगा ,और यह सब दिखाएंगी मोहिनी घोष. फिल्म में उनके अपोजिट हैं अभिनेता शैलेश सिन्हा।  शंकर रोहिरा  , एस आर फिल्म्स प्रजेंट्स व आर ए आई एस फिल्म्स की इस फिल्म के निर्माता हैं अविनाश रोहिरा व मोहम्मद असलम जबकि निर्देशक असलम शेख ने खुद अपनी ही कथा और पटकथा पर इस फिल्म को निर्देशित किया है। फिल्म में भोजपुरी  फिल्मो के मेगा स्टार मनोज तिवारी मृदुल , रिंकू घोष , मोनालिसा , शैलेश सिन्हा , मोहिनी घोष , अयाज़ खान , प्रकाश जैस , रितु पांडे और अवधेश मिश्रा मुख्य भूमिका में हैं जबकि संगीता तिवारी, श्वीटी छाबरा , सूर्या और आइटम क्वीन संभावना सेठ भी इस  फिल्म में अतिथि लेकिन अहम किरदार में हैं। यही नहीं इस फिल्म से भोजपुरी फिल्म जगत को इम्तियाज़ असलम के रूप में एक दमदार अभिनेता मिलने जा रहा है। udaybhagat@gmail.com